फटाफट (25 नई पोस्ट):

Saturday, September 13, 2008

हिन्द-दिवस का नारा


सभी को हिन्दी-दिवस की पूर्व संध्या पर शुभकामनाएँ। खूब प्रयोग करें अपनी-अपनी मातृभाषा का, न प्रयोग होने वाली भाषाएँ मर जाती हैं। संकल्प लें की अपनी भाषा को जीवित रखेंगे। इस अवसर पर आलोक शंकर की यह कविता भी प्रासंगिक है। पिछले साल हिन्द-युग्म इसी विषय पर सितम्बर का काव्य-पल्लवन भी आयोजित किया था, पढ़िए हिन्दी-दिवस पर १६ कविताएँ। कल हिन्द-युग्म हिन्दी का भविष्य सुरक्षित करने के लिए एक ऑनलाइन परिचर्चा आयोजित कर रहा है। कल सुबह १० से शाम ४ बजे तक का समय हिन्दी के लिए सुरक्षित करें और भाग लें। अधिक जानकारी हेतु देखें




आप भी इस तरह के पोस्टर अपने ब्लॉग पर लगायें


1.
हिन्दी मेरा इमान है
हिन्दी मेरी पहचान है
हिन्दी हूँ मैं वतन भी मेरा
प्यारा हिन्दुस्तान है
2.
हिन्दी की बिन्दी को
मस्तक पे सजा के रखना है
सर आँखो पे बिठाएँगे
यह भारत माँ का गहना है
3.
बढ़े चलो हिन्दी की डगर
हो अकेले फिर भी मगर
मार्ग की काँटे भी देखना
फूल बन जाएँगे पथ पर
4.
हिन्दी को आगे बढ़ाना है
उन्नति की राह ले जाना है
केवल इक दिन ही नहीं हमने
नित हिन्दी दिवस मनाना है
5.
हिन्दी से हिन्दुस्तान है
तभी तो यह देश महान है
निज भाषा की उन्नति के लिए
अपना सब कुछ कुर्बान है
6.
निज भाषा का नहीं गर्व जिसे
क्या प्रेम देश से होगा उसे
वही वीर देश का प्यारा है
हिन्दी ही जिसका नारा है
7.
राष्ट्र की पहचान है जो
भाषाओं में महान है जो
जो सरल सहज समझी जाए
उस हिन्दी को सम्मान दो
8.
अग्रेजी का प्रसार भले
हम अपनी भाषा भूल चले
तिरस्कार माँ भाषा का
जिसकी ही गोदि में हैं पले
9.
भाषा नहीं होती बुरी कोई
क्यों हमने मर्यादा खोई
क्यों जागृति के नाम पर
हमने स्व-भाषा ही डुबोई
10.
अच्छा बहु भाषा का ज्ञान
इससे ही बनते है महान
सीखो जी भर भाषा अनेक
पर राष्ट्र भाषा न भूलो एक
11.
इक दिन ऐसा भी आएगा
हिन्दी परचम लहराएगा
इस राष्ट्र भाषा का हर ज्ञाता
भारतवासी कहलाएगा
12.
निज भाषा का ज्ञान ही
उन्नति का आधार है
बिन निज भाषा ज्ञान के
नहीं होता सद-व्यवहार है
13.
आओ हम हिन्दी अपनाएँ
गैरों को परिचय करवाएँ
हिन्दी वैज्ञानिक भाषा है
यह बात सभी को समझाएँ
14.
नहीं छोड़ो अपना मूल कभी
होगी अपनी भी उन्नति तभी
सच्च में ज्ञानी कहलाओगे
अपनाओगे निज भाषा जभी
15.
हिन्दी ही हिन्द का नारा है
प्रवाहित हिन्दी धारा है
लाखों बाधाएँ हो फिर भी
नहीं रुकना काम हमारा है
16.
हम हिन्दी ही अपनाएँगे
इसको ऊँचा ले जाएँगे
हिन्दी भारत की भाषा है
हम दुनिया को दिखाएँगे

--सीमा सचदेव

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

16 कविताप्रेमियों का कहना है :

Seema Sachdev का कहना है कि -

हिन्दी दिवस की हार्दिक बधाई ....सीमा सचदेव

Udan Tashtari का कहना है कि -

हिन्दी में नियमित लिखें और हिन्दी को समृद्ध बनायें.

हिन्दी दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

-समीर लाल
http://udantashtari.blogspot.com/

diya22 का कहना है कि -

हिन्दी है मेरे देश की धड़कन,
हिन्दी ही तो शान है,
हिंद देश के वासी है हम,
हिन्दी ही पहचान है......
हिंद दिवस की हार्दिक शुभ्ह्कमनाये....
हिन्दयुग्म परिवार निरंतर इसी तरह बढ़ता रहे और हिन्दी का प्रचार-प्रशार करता रहे

rachana का कहना है कि -

सीमा जी आप की कही सारी बात बहुत सुंदर है
सभी को हिन्दी दिवस की बधाई
सादर
रचना

शैलेश भारतवासी का कहना है कि -

सीमा जी,

आप जैसी हिन्दी सेविका रहेंगी तो हिन्दी फलती-फूलती रहेगी। रोज़ हिन्दी-दिवस मनायें।

sahil का कहना है कि -

बहुत ही सुंदर प्रस्तुति.हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं
आलोक सिंह "साहिल"

seema,"simriti" का कहना है कि -

सीमा जी
हिन्‍दी दिवस की बधाई और इतना कहना चाहूंगी
दो बूंद हिन्‍दीगीरी की सितम्‍बर में ही नहीं
बा‍रह मास पिलानी होगी
मन की तहों में ये इच्‍छा जगानी होगी
हिन्‍दी के प्रति सौतेलेपन की बीमारी
जड़ ही से मिटानी होगी
लगे रहो हिन्‍दी प्रेमियों
कभी तो हिन्‍दीगीरी का जादू छायेगा
हिन्‍दी को क ख ग का तख्‍त नहीं
उचित सिंहासन मिल जाएगा

kamal vats का कहना है कि -

हिन्दी दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

prerna का कहना है कि -

happy hindi divas to all indians.
i personally request to all indians to use hindi. plz don't forget ur mother tonque.
its our moral duty to use our mother tongue
plz respect hindi.

MADHAVI LATHA का कहना है कि -

seema jee, hum aapki HINDI ke naare abhi-abhi dekhi hain.bahut-bahut badhiya hain. aapko avur sabhi bhaarathvaasiyon ko hamaari HINDI DIVAS ki SHUBHKAAMNAAYEN.

"रुनझुन" का कहना है कि -

हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ.......

"रुनझुन" का कहना है कि -
This comment has been removed by the author.
Ajay का कहना है कि -

Hindi Diwas par aap sabhi ko badhai,
Na jane kal sham ko hi mujhe ahsash hua k mai apne sabhi vidhyarthi ko hindi me type karna sikhau iske bare me soch kar maine nirnay liya k mai ek flax banwata hun aur sabhi bache ishe dekhkar bar bar kosis kare aur computer me hindi ka kam kare : jaise hi aaj karne laga to pata chala k aaj to hindi diwas hai jai hind jai bharat.............

manoj kumar का कहना है कि -

हिन्दुस्तान मेरी जान, मेरी शान,मेरा मान है

हिन्दी मेरी पहचान, मेरा अभिमान, मेरा सम्मान है

Ankush Sisodia का कहना है कि -

"hindi hain hum, ye watan, or ye hindustan humara"

Anuradha Kumari का कहना है कि -

jann-jann ki bhasha 'HINDI'
hamare rashtra ki bhasha HINDI...
'HINDI' ka samman kare,
duniya bhar me naam kare.............

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)