फटाफट (25 नई पोस्ट):

Sunday, January 04, 2009

निदा फ़ाज़ली देंगे आपके सवालों के जवाब


हिन्द-युग्म अपने पाठकों को विशेष अवसर दे रहा है। हिन्द-युग्म के प्रतिनिधि १-२ दिनों में मशहूर शायर निदा फ़ाज़ली से मुलाक़ात करने वाले हैं। हम चाहते हैं कि आप भी निदा से कुछ पूछें। हम निदा फ़ाज़ली से आपके सवाल आपके नाम से रखेंगे और उन्हीं आवाज़ में उनका जवाब लेकर आवाज़ पर आयेंगे। तो बस नीचे के फॉर्म में आप लिख भेजें अपने सवाल।



नोटः- हमारे संपादक मंडल को जो सवाल पसंद आयेंगे, हम वही सवाल निदा फ़ाज़ली के सामने रखेंगे।

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

6 कविताप्रेमियों का कहना है :

Shamikh Faraz का कहना है कि -

हिंद युग्म का यह क़दम बहुत अच्छा है. लेकिन यह भी बताएं कि सवाल किस तरह के पूछना हैं?

नियंत्रक । Admin का कहना है कि -

वही तो सोचने वाली बात हैं। जिन्होंने निदा को पढ़ा-सुना होगा, उनके मन में कुछ सवाल ज़रूर आये होंगे।

sumit का कहना है कि -

ये तो बहुत ही अच्छी ख़बर है
बस समझ नही आ रहा क्या सवाल करू
मैंने उनकी गज़ले रेडियो पर कई बार सुनी है, हर गज़ल एक से बढ़कर एक है

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन का कहना है कि -

बहुत अच्छा प्रयास है. ऐसा लगता है कि पाठक क्या सवाल करें इस बारे में कुछ संकेत/हिंट/क्लू देना लाभदायक होगा यथा -
- राजनीति, आतंकवाद, धार्मिक असहिष्णुता आदि पर
- सिर्फ़ निदा फाजली की रचनाओं पर
- उनके साथी साहित्यकारों के बारे में
- काव्य से हटकर कोई कोई अन्य ऐसा विषय जिसमें उनकी विशेष रुची या विशेषज्ञता हो

manu का कहना है कि -

सवाल ये नहीं है के क्या सवाल पूछा जाए
ये है के कितने सवाल पूछने की इजाज़त है...

अगर एक की ही है तो मैंने सोच रखा है....और ज्यादा की है तो फ़िर से सोचें

नियंत्रक । Admin का कहना है कि -

स्मार्ट जी,

कोई किसी भी तरह का सवाल कर सकता है। जिन्होंने उनका साहित्य पढ़ा होगा, उनके पास अलग सवाल होंगे, जिन्होंने नहीं पढ़ा है, उनके पास अलग। इसलिए सवालों को विषयमुक्त रख देते हैं। कोई कुछ भी पूछे। अंतिम निर्णय हिन्द-युग्म का संपादकीय मंडल ले लेगा।

मनु जी,

आप कितने भी सवाल कर सकते हैं। लेकिन यह भी हो सकता है कि हम आपके सभी सवाल निदा फ़ाज़ली के सामने रखें, यह भी हो सकता है कि एक भी नहीं :)

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)