फटाफट (25 नई पोस्ट):

Thursday, April 03, 2008

हिन्द युग्म देशी-विदेशी मीडिया में


मार्च महीने में हिन्द-युग्म ने मीडिया के उन पृष्ठों पर जगह बनाई है जो उन जनसमूहों तक पहुँचते हैं जिनतक चर्चित पत्र-पत्रिकाओं की पहुँच नहीं है।

मीडिया-स्कैन ऐसी ही चार पृष्ठों की एक मासिक समाचार पत्रिका है जिसके प्रकाशक आशीष कुमार 'अंशु' ने इसके मार्च २००८ अंक में 'हिन्द-युग्म' का संक्षिप्त परिचय प्रकाशित किया है।




अखिल भारतीय मारवाड़ी सम्मेलन के मुखपत्र 'समाज विकास' के मार्च २००८ अंक में 'हिन्द-युग्म' के कार्यकलापों की समीक्षा प्रकाशित हुई है। यह एक वैचारिक मासिक पत्रिका है जो कोलकाता से प्रकाशित होती है।




प्रवासी भारतीयों की चर्चित मासिक पत्रिका गर्भनाल के १७ वें अंक (अप्रैल २००८ अंक) में 'पहला सुर' के विमोचन का सचित्र समाचार प्रकाशित हुआ है। यह पत्रिका लगभग हर देश के हिन्दी प्रेमियों तक पहुँचती है।


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

7 कविताप्रेमियों का कहना है :

आलोक शंकर का कहना है कि -

भाई लगे रहे

SURINDER RATTI का कहना है कि -

हिंद युग्म देश विदेश में लोकप्रिय हो रहा है ये हर्ष की बात है ... हिंद युग्म की पुरी टीम बधाई की पात्र है, आशीष को भी बधाई, शुभ कामनाएं... इसी तरह दिन रात प्रगति करते रहे - सुरिन्दर रत्ती

संजय बेंगाणी का कहना है कि -

बधाई स्वीकारें

सजीव सारथी का कहना है कि -

बहुत बढ़िया

pooja anil का कहना है कि -

बड़ी खुशी हुई , हिंद युग्म को बधाई और शुभकामनाएं
पूजा अनिल

तपन शर्मा का कहना है कि -

दिल खुश हो जाता है ऐसी खबर पढ़ कर। अच्छा लगता है कि जो हिन्दयुग्म कर रहा है वो दुनिया जान रही है। और हिम्मत मिलती है कि ऐसा ही काम लगातार करते रहें।

अल्पना वर्मा का कहना है कि -

बधाई और शुभकामनाएं

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)