फटाफट (25 नई पोस्ट):

Tuesday, May 12, 2009

तू बेयक़ीन है, मत जा शराबख़ाने में


ये एहतियात हमेशा रही सताने में
कहीं वो रूठ न जाए मुझे मनाने में।

बस एक लम्हा लगा फ़ासला बढ़ाने में
तमाम उम्र गई उसको पास लाने में।

वो दिन को रात कहेगा तो मान जाऊँगा
मैं खो चुका हूँ कई लोग आज़माने में।

नशा, यक़ीन में घुलकर शराब बनता है
तू बेयक़ीन है, मत जा शराबख़ाने में।

बताऊँ क्या मेरी मसरूफ़ियत अजीब सी है
मैं ख़ुद को ढूँढ़ता फिरता हूँ आने-जाने में।

ज़रा से आँसू, ज़रा सी ख़ुशी, ज़रा सा मलाल
इन्हीं के दम पे है रौनक़ मेरे फ़साने में।

ये मेरे दोस्त जिसे मेरा दिल समझते थे
वो शीशा टूट गया देखने दिखाने में।

--नाज़िम नक़वी

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

13 कविताप्रेमियों का कहना है :

neelam का कहना है कि -

ये एहतियात हमेशा रही सताने में
कहीं वो रूठ न जाए मुझे मनाने में।

वो दिन को रात कहेगा तो मान जाऊँगा
मैं खो चुका हूँ कई लोग आज़माने में।

ज़रा से आँसू, ज़रा सी ख़ुशी, ज़रा सा मलाल
इन्हीं के दम पे है रौनक़ मेरे फ़साने में।

wallllllllllllah ,naajim ji aap jise logon ke liye hi shaayad koi
shaayar kah kar gaya hai

अल्लाह जाने मेरे सिजदे का क्या हश्र हो ,
जब सर झुका रहा था तो तुम (आपके शेर ) याद आ गए |

mohammad ahsan का कहना है कि -

umda, saleeqe ki ghazal.

"अर्श" का कहना है कि -

khub kahi...............

गौतम राजरिशी का कहना है कि -

एक बेहतरीन ग़ज़ल

manu का कहना है कि -

एक से बढ़कर एक शेर लिए आज फिर एक खूबसूरत गजल मिली है नाजिम साहब की,,,,,
लाजवाब,,,
खूबसूरत मतला,,,
मैं खो चुका हूँ कई लोग आज़माने में
बहुत प्यारा अहसास ,,,

नशा, यक़ीन में घुलकर शराब बनता है
क्या फलसफा है,,,,
आपको पढ़ कर हमेशा की तरह झूम गए साहब,,,,

RC का कहना है कि -

Har She'r lajawaab ..
वो दिन को रात कहेगा तो मान जाऊँगा
मैं खो चुका हूँ कई लोग आज़माने में। - bahut khoob!

रश्मि प्रभा... का कहना है कि -

ये एहतियात हमेशा रही सताने में
कहीं वो रूठ न जाए मुझे मनाने में।.......बहुत खूब

अवनीश एस तिवारी का कहना है कि -

भाव में , लय में , समझाने में लगभग सब बातों में एक सही रचना लगी |
क्या कहा जाए - सुन्दर और लाजवाब !

अवनीश तिवारी

Dinesh Dard का कहना है कि -

नाजिम साहब,

आप ही की ग़ज़ल के एक मिसरे से बात शुरू करता हूँ कि :-
"तू बेयक़ीन है, मत जा शराबख़ाने में"
......लेकिन यकीनन आपकी ग़ज़ल के अशआर की सदा बहुत दूर तक जाती मालूम होती है. लिहाज़ा "बहुत खूब" से ज्यादा कुछ कहा ही नहीं जा सकता.

ऐसी ग़ज़ल लिखने के लिए मैं आपका शुक्रिया अदा करता हूँ.

दिनेश "दर्द", उज्जैन

Science Bloggers Association का कहना है कि -

गजल छोटी सही, पर लाजवाब करती है।
-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

Bhaumik का कहना है कि -

I am here for the very first time and this ghazal ensures I will be coming here many more times.Amazing work!

Gege Dai का कहना है कि -

nike outlet store
mbt shoes outlet
michael kors outlet
nike air huarache
ray ban sunglasses
nike air huarache
mulberry handbags sale
instyler
true religion jeans
coach factory outlet
ghd uk
nike free running
fitflops outlet sale
ray ban sunglasses
longchamp handbags
cheap oakley sunglasses
adidas wings shoes
tory burch outlet online
coach outlet
coach outlet online
christian louboutin outlet
adidas trainers
cheap mlb jerseys
ralph lauren uk
ferragamo shoes
burberry sunglasses on sale
burberry outlet
lebron shoes
michael kors outlet online
tods shoes sale
fitflops sale
fitflops clearance
ferragamo outlet
louis vuitton bags cheap
kobe bryants shoes
16.7.18qqqqqing

chenlina का कहना है कि -

gucci outlet
louis vuitton handbags
air jordans
louis vuitton outlet stores
christian louboutin outlet
jordan retro 11
coach canada
michael kors outlet
christian louboutin outlet
north face outlet
cheap nfl jerseys
louis vuitton
cheap oakley sunglasses
replica watches
celine outlet
louis vuitton outlet
jordan 13
air jordans
true religion outlet
michael kors outlet
ralph lauren
coach factory outlet
ray ban sunglasses
cheap oakley sunglasses
michael kors outlet
designer handbags
asics outlet
adidas ultra boost
burberry outlet
christian louboutin outlet
lebron james shoes 13
toms outlet
coach outlet
michael kors handbags
kd 8 shoes
jordan 6
ralph lauren outlet
replica rolex watches
louis vuitton outlet
jordan 3
chenlina20160729

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)