फटाफट (25 नई पोस्ट):

Tuesday, January 01, 2008

नव वर्ष मंगलमय हो




पल छिन घंटे,
दिन, सप्ताह
माह, छिमाही
मिलन, आनन्द
दुख आंतक जुदाई
परोस सिमट गया
वर्ष २००७
अन्य वर्षों की तरह
भूतकाल का अंश बन

फ़िर से पूर्व में
नव किरण पसर रही
नव वर्ष का आवाहन लिये
शिशु २००८ किलक रहा
फ़ूल, वन्दनवार बन
प्रथम पृष्ठ समाचार बन
मिलते हाथों में गर्मी
आंखों में प्यार बन

है यही ईश्वर से गुहार मेरी
पूरे हों संकल्प सब
जो कर रही हैं टोलियां
गूंजा करे यूंहीं ज्यूं आज
गूंजती हैं प्यार की यह बोलियां
आस में रंग भरते रहें और
कल्पना का विस्तार हो
हर कोई लगे अपना ही सा
हर दिल में भरा प्यार हो

नव वर्ष मंगलमय हो
हर पल आशानुसार हो

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

10 कविताप्रेमियों का कहना है :

shobha का कहना है कि -

मोहिंदर जी
नव वर्ष पेर सुनाद्र और प्रभावी रचना के लिए बधाई. . नव वर्ष आपके जीवन मैं मंगल माय हो यही कामना है.

seema gupta का कहना है कि -

Tamanna karte ho jin khushiyon ki vo khushiya aapke kadmo mey ho.Isahvar aapko vo haqiqat mey dey jo socha aapne sapno mey ho”


“HAPPY NEW YEAR”

mehek का कहना है कि -

nav varsh ki badhayi,behad khubsurat kavita hai.

सजीव सारथी का कहना है कि -

वाह

राजीव रंजन प्रसाद का कहना है कि -

मोहिन्दर जी,

आपके इस संदेश से सहमति जताते हुए:

है यही ईश्वर से गुहार मेरी
पूरे हों संकल्प सब
जो कर रही हैं टोलियां
गूंजा करे यूंहीं ज्यूं आज
गूंजती हैं प्यार की यह बोलियां
आस में रंग भरते रहें और
कल्पना का विस्तार हो
हर कोई लगे अपना ही सा
हर दिल में भरा प्यार हो

नव वर्ष मंगलमय हो
हर पल आशानुसार हो

नव वर्ष की शुभकामनायें।

*** राजीव रंजन प्रसाद

tanha kavi का कहना है कि -

नव वर्ष मंगलमय हो
हर पल आशानुसार हो

नववर्ष सबके लिए मंगलमय हो, मोहिन्दर जी आपकी यह कामना जरूर असर दिखाये यही कामना करता हूँ।

-विश्व दीपक 'तन्हा'

sahil का कहना है कि -

मोहिंदर जी नव वर्ष पर आपकी प्यारी रचना का आना सुखद रहा.
नव वर्ष की बहुत बहुत शुभकामनाएं
आलोक सिंह "साहिल"

Alpana Verma का कहना है कि -

सुंदर सरल शब्दों का चयन और गठन ,कविता में प्रवाह बहुत पसंद आया.
कड़ी से कड़ी जोड़ती हुई कविता अपना संदेश बखूबी दे रही है-
'आस में रंग भरते रहें और
कल्पना का विस्तार हो
हर कोई लगे अपना ही सा
हर दिल में भरा प्यार हो
नव वर्ष मंगलमय हो
हर पल आशानुसार हो'
आप की यह कामना ईश्वर जरुर पूरी करे.
शुभकामनाएं.

रंजू का कहना है कि -

नव वर्ष मंगलमय हो
हर पल आशानुसार हो

बहुत सुंदर ...नए साल की नई कविता अच्छी है .नव वर्ष आपके लिए भी शुभ हो ...

अभिन्न का कहना है कि -

नव वर्ष की मंगलमय कामनाओं के साथ साथ आपकी रचना का स्वागत. खूब लिखा है
नव वर्ष मंगलमय हो
हर पल आशानुसार हो

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)