फटाफट (25 नई पोस्ट):

Friday, June 24, 2011

किसानों को धीरे-धीरे नष्ट किया गया है


मुसहर

गाँव से लौटते हुए
इस बार पिता ने सारा सामान
लदवा दिया
ठकवा मुसहर की पीठ पर

कितने बरस लग गए ये जानने में
मुसहर किसी जाति को नहीं
दुःख को कहते हैं।

बच्चे- 1

बच्चे जो कि चोर नहीं थे
चोरी करते हुए पकड़े गए
चोरी करना बुरी बात है
इस एहसास से वे महरूम थे

दरअसल अभी वे इतने
मासूम और पवित्र थें
कि भूखे रहने का
हुनर नहीं सीख पाए थे।

बच्चे -2

सड़क पर चलते हुए एक बच्चे ने घुमाकर
एक घर की तरफ पत्थर फेंका
एक घर की खिड़की का शीशा टूट गया
पुलिस की बेरहम पिटाई के बाद बच्चे ने कबूल किया
वह बेहद शर्मिंदा है उसका निशाना चूक गया।

किसान

उसके हाथ में अब कुदाल नहीं रही
उसके बीज सड़ चुके हैं
खेत उसके पिता ने ही बेच डाली थी
उसके माथे पर पगड़ी भी नहीं रही
हाँ कुछ दिन पहले तक
उसके घर में हल का फल और मूठ
हुआ करता था

उसके घर में जो
नमक की आखरी डली बची है
वह इसी हल की बदौलत है
उसके सफ़ेद कुर्ते को
उतना ही सफ़ेद कह सकते हैं
जितना कि उसके घर को घर
उसके पेशे को किसानी
उसके देश को किसानों का देश

नींद में अक्सर उसके पिता
दादा के बखार की बात करते
बखार माने
पूछता है उसका बेटा
जो दस रुपये रोज पर खटता है
नंदू चाचा की साइकिल की दुकान पर

दरकती हुए ज़मीन के
सूखे पपड़ों के भीतर से अन्न
के दाने निकालने का हुनर
नहीं सीख पायेगा वह

यह उन दिनों की बात है
जब भाषा इतनी बंजर नहीं हुई थी
दुनिया की हर भाषा में वह
अपने पेशे के साथ जीवित था
तब शायद डी.डी.टी का चलन
भाषा में और जीवन में
इतना आम नहीं हुआ था

वे जो विशाल पंडाल के बीच
भव्य समारोह में
मना रहे हैं पृथ्वी दिवस
वे जो बचा रहे हैं बाघ को
और काले हिरन को
क्या वे एक दिन बचायेंगे किसान को
क्या उनके लिए भी यूँ ही होंगे सम्मलेन

कई सदी बाद
धरती के भीतर से
निकलेगा एक माथा
बताया जायेगा
देखो यह किसान का माथा है
सूंघों इसे
इसमें अब तक बची है
फसल की गंध
यह मिट्टी के
भीतर से खिंच लेता था जीवन रस

डायनासोर की तरह
नष्ट नहीं हुई उनकी प्रजाति
उन्हें एक-एक कर
धीरे-धीरे नष्ट किया गया।

कवि- अच्युतानंद मिश्र

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

36 कविताप्रेमियों का कहना है :

रंजना का कहना है कि -

इस लेखनी ने निःशब्द और नतमस्तक कर दिया ... उदगार को शब्द नहीं मिल रहे...

DHARMENDRA MANNU का कहना है कि -

KYA KHUN KUCHH SHABD NAHI MIL RAHE HAI... NIHSHABD HO GAYA HUN... MAN BHING GAYA HAI EK AJEEB SI UDAASI SE...

वाणी गीत का कहना है कि -

मार्मिक यथार्थ पर सजग लेखनी !

प्रमोद कुमार तिवारी का कहना है कि -

कवियों की भारी भीड् और कविताओं की उतनी ही विरलता के इस भावहीन/अभाव समय में ये पंक्तियां भरोसा देती हैं। कवि को हार्दिक बधाई। साथ ही भविष्‍य में और सुंदर रचनाओं की उम्‍मीदें भी।
प्रमोद

Anita का कहना है कि -
This comment has been removed by the author.
Anita का कहना है कि -

कितने बरस लग गए ये जानने में
मुसहर किसी जाति को नहीं
दुःख को कहते हैं।

कवि की संवेदनशीलता ह्रदय को छू जाती है, बच्चों की मासूमियत को दर्शाती पंक्तियाँ और किसान के माथे से आती फसल की गंध एकदम अछूती कल्पनाएँ है... आभार !

कविता रावत का कहना है कि -

bahut sundar marmsparshi rachna ke liye aabhar!

नीलांश का कहना है कि -

bahut sunder hai sabhi lekhani

bacche waala aur kisaan waala sabse accha
bahut shashakt aur saarthak

Maheshwari kaneri का कहना है कि -

मार्मिक यथार्थ रचना...आभार !

Rachana का कहना है कि -

उसके घर में जो
नमक की आखरी डली बची है
वह इसी हल की बदौलत है
उसके सफ़ेद कुर्ते को
उतना ही सफ़ेद कह सकते हैं
जितना कि उसके घर को घर
उसके पेशे को किसानी
उसके देश को किसानों का देश
kamal ka likha .sahi bat sunder bhav
दरअसल अभी वे इतने
मासूम और पवित्र थें
कि भूखे रहने का
हुनर नहीं सीख पाए थे।
ati sunder
rachana

चैन सिंह शेखावत का कहना है कि -

nishabd......
ye h kavita...
jo bolne ka mauka hi na de..
badhai...abhaar..

RAKESH JAJVALYA राकेश जाज्वल्य का कहना है कि -

वे जो विशाल पंडाल के बीच
भव्य समारोह में
मना रहे हैं पृथ्वी दिवस
वे जो बचा रहे हैं बाघ को
और काले हिरन को
क्या वे एक दिन बचायेंगे किसान को
क्या उनके लिए भी यूँ ही होंगे सम्मलेन
------------
aane wale dino ki sahi aashanka hai is kavita me.....

kavita bahut kuchh sochne par mazboor kar deti hai...


ek kamyaab rachna.

Unknown का कहना है कि -

bahut marmik rachna.

vidhya का कहना है कि -

bahut sunder hai sabhi lekhani

www.puravai.blogspot.com का कहना है कि -

गाँव से लौटते हुए
इस बार पिता ने सारा सामान
लदवा दिया
ठकवा मुसहर की पीठ पर

कितने बरस लग गए ये जानने में
मुसहर किसी जाति को नहीं
दुःख को कहते हैं। मार्मिक उदगार हार्दिक बधाई।

Anonymous का कहना है कि -

मार्मिक रचना..वाकई एक दिन डायनासोर के जीवाश्म की तरह पाए जायेंगे किसान.....बहुत बहुत बधाई...

DHARMENDRA MANNU का कहना है कि -

कितने बरस लग गए ये जानने में
मुसहर किसी जाति को नहीं
दुःख को कहते हैं।

सच… कविता ने बहुत पहले की एक घटना याद दिला दी… रोम रोम सिहर गया…

पता नही कब ये सब कुछ खत्म होगा…

Unknown का कहना है कि -

Bahut dil se likh gaye saahab. Namaskaar!

TikaAprilia का कहना है कि -

Youre so cool! I dont suppose Ive read anything like this before. So nice to find somebody with some original thoughts on this subject. realy thank you for starting this up. this website is something that is needed on the web, someone with a little originality. useful job for bringing something new to the internet!

Fanfiction.net
Information

Gabriella Jackson का कहना है कि -

Youre so cool! I dont suppose Ive read anything like this before. So nice to find somebody with some original thoughts on this subject. realy thank you for starting this up. this website is something that is needed on the web, someone with a little originality. useful job for bringing something new to the internet!

Mojomarketplace.com
Information

Haconi Siha का कहना है कि -

There are some interesting points in time in this article but I don’t know if I see all of them center to heart. There is some validity but I will take hold opinion until I look into it further. Good article, thanks and we want more! Added to FeedBurner as well

Uberant.com
Information

Takbir Kola का कहना है कि -

I discovered your blog site on google and check a few of your early posts. Continue to keep up the very good operate. I just additional up your RSS feed to my MSN News Reader. Seeking forward to reading more from you later on!…

Espressobin.net
Information
Click Here

Denian Frizy का कहना है कि -

Would you be interested in exchanging links?

Click Here
Visit Web

Lallo Varazit का कहना है कि -

I was very pleased to find this web-site. I wanted to thanks for your time for this wonderful read!! I definitely enjoying every little bit of it and I have you bookmarked to check out new stuff you blog post.

Linqto.me
Information
Click Here

Manila का कहना है कि -

Can I just say what a relief to find someone who actually knows what theyre talking about on the internet. You definitely know how to bring an issue to light and make it important. More people need to read this and understand this side of the story. I cant believe youre not more popular because you definitely have the gift.

Photozou.jp
Information
Click Here

Dora Shaw का कहना है कि -

Spot on with this write-up, I truly think this website needs much more consideration. I’ll probably be again to read much more, thanks for that info.

Click Here
Visit Web
Natalie-gorel.de

Ray Stanley का कहना है कि -

I was very pleased to find this web-site. I wanted to thanks for your time for this wonderful read!! I definitely enjoying every little bit of it and I have you bookmarked to check out new stuff you blog post.

Click Here
Visit Web

Traventure का कहना है कि -

Would you be interested in exchanging links?

Click Here
Visit Web

Emily Butler का कहना है कि -

After study a few of the blog posts on your website now, and I truly like your way of blogging. I bookmarked it to my bookmark website list and will be checking back soon. Pls check out my web site as well and let me know what you think.

Click Here
Visit Web

MiltonBaker का कहना है कि -

An impressive share, I just given this onto a colleague who was doing a little analysis on this. And he in fact bought me breakfast because I found it for him.. smile. So let me reword that: Thnx for the treat! But yeah Thnkx for spending the time to discuss this, I feel strongly about it and love reading more on this topic. If possible, as you become expertise, would you mind updating your blog with more details? It is highly helpful for me. Big thumb up for this blog post!


Hulkshare.com
Information
Click Here
Visit Web

Miguel Long का कहना है कि -

Would you be interested in exchanging links?

Experiment.com
Information
Click Here

Chand Mason का कहना है कि -

This really answered my problem, thank you!

Information
Click Here
Visit Web

Daisy Lowe का कहना है कि -

It’s hard to find knowledgeable people on this topic, but you sound like you know what you’re talking about! Thanks

Pathtounite.org
Information
Click Here

AugustCollects का कहना है कि -

Aw, this was a really nice post. In idea I would like to put in writing like this additionally – taking time and actual effort to make a very good article… but what can I say… I procrastinate alot and by no means seem to get something done.

Annonces.infojeunesse-paca.fr
Information
Click Here

Alan Miller का कहना है कि -

Youre so cool! I dont suppose Ive read anything like this before. So nice to find somebody with some original thoughts on this subject. realy thank you for starting this up. this website is something that is needed on the web, someone with a little originality. useful job for bringing something new to the internet!

Datamodelinginstitute.com
Information
Click Here
Visit Web

farhaan khan का कहना है कि -

about allah islamic quotes about islam 5 pillars of islam- Sakoonedil islamic waqiat qayamat jannah aur jahannam islamic life god in islam

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)