फटाफट (25 नई पोस्ट):

Tuesday, June 29, 2010

मुझे मोहब्बत है उजालों से


वह कभी-कभी
रातों को उठकर कहती थी
तुम्हारी आवाज की
सुनहरी सलवटें बहुत हसीन लगती हैं
जब मिलकर मेरी आवाज से
शून्य हो जाती हैं
गूंजती हैं खलाओं में
भरती हैं सूरज में रोशनी
उड़ाती हैं कायनात में संगीत
कानों से लगकर
गुदगुदी मचाती हैं

मुझे पसंद हैं ऐसी आवाजें
जो बेबाक हैं
प्यार में भी
अदावत में भी
मुझे पसंद हैं ऐसी आवाजें
जो बहें तो जमाना बह चले
जो हंसें तो जमाना हंस पड़े
जो दबें तो जमाना चीख उठे

एक रात उसने कहा
बहुत उदासी है
उठो न!
कुछ ऐसा रचो
कि उज्जर हो जाएँ
ये निराश उदास काली रातें
आओ पैदा करें एक आवाज
जो जज्ब कर ले
जमाने की स्याहियां
मुझे मोहब्बत है
उजालों से।

कवि- कृष्णकांत

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

12 कविताप्रेमियों का कहना है :

वन्दना का कहना है कि -

वाह्………………क्या भाव हैं………………सुन्दर प्रस्तुति।

स्वप्निल कुमार 'आतिश' का कहना है कि -

badhiya rachna..ye muhabbat kayam rahe...zaroori hai ..

निखिल आनन्द गिरि का कहना है कि -

कहां जाकर खत्म हुई ये रचना...बढ़िया है...

M VERMA का कहना है कि -

जो जज्ब कर ले
जमाने की स्याहियां
मुझे मोहब्बत है
उजालों से।
सुन्दर आह्वान, बेहतरीन ज़ज्बा जज्ब करने के लिये हैं जमाने की स्याहियों को

Deepali Sangwan का कहना है कि -

brilliant..kya shaandar nazm kahi hai..maza aa gaya..

डा. अरुणा कपूर. का कहना है कि -

जीवन के दु;ख रुपी अंधेरों मे, खुशियां ही उजाला भर देती है....तो क्यों न हम उजालों से मोहब्बत करें?....सुंदर रचना!

विनोद कुमार पांडेय का कहना है कि -

एक सुंदर अभिव्यक्ति..बधाई रचना ..धन्यवाद कृष्णकांत जी

डा.संतोष गौड़ राष्ट्रप्रेमी का कहना है कि -

आओ पैदा करें एक आवाज
जो जज्ब कर ले
जमाने की स्याहियां
मुझे मोहब्बत है
उजालों से।
बहुत अच्छा! कितने सुन्दर भाव
किन्तु उजालों से मुहब्बत तो सभी करते हैं
उजालों का सृजन व संरक्षण करना महत्व पूर्ण है.
देखने में तो यही आता है, पुष्पों से प्रेम करने वाले ही पुष्पों को तोड़्कर नष्ट करते हैं. यही उजाले के साथ भी होता है.

sada का कहना है कि -

मुझे पसंद हैं ऐसी आवाजें
जो बेबाक हैं
प्यार में भी
अदावत में भी

गहरे भावों के साथ बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

sumita का कहना है कि -

आओ पैदा करें एक आवाज
जो जज्ब कर ले
जमाने की स्याहियां
मुझे मोहब्बत है
उजालों से।
सुन्दर भाव..बधाई!!

charu का कहना है कि -

k.k ji nayi upalabdhiyo ke liye bahut bahut badhayi...

Geeta का कहना है कि -

BHAV bade pyare hai

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)