फटाफट (25 नई पोस्ट):

Friday, February 05, 2010

हिन्द-युग्म के वार्षिकोत्सव में आपका स्वागत है




हमारे पाठक हिन्द-युग्म की गतिविधियों से परिचित हैं। हिन्द-युग्म इन दिनों इंटरनेट से बाहर की दुनिया से संपर्क बनाने के लिए विश्व पुस्तक मेला में अपना स्टॉल लगाया है और इंटरनेट पर हिन्दी की उपस्थिति का प्रचार-प्रसार कर रहा है। स्टॉल के माध्यम से प्रचार-प्रसार के अलावा हिन्द-युग्म कुछ अन्य कार्यक्रम भी आयोजित करके नई और पुरानी पीढ़ी के साहित्यकारों, कलाकारों, भाषाकर्मियों से संबंध स्थापित कर रहा है।

31 जनवरी 2010 को विश्व पुस्तक मेला में हिन्द-युग्म द्वारा प्रकाशित काव्य-पुस्तक 'शब्दों का रिश्ता' और दो अन्य पुस्तकों का लोकार्पण कार्यक्रम आयोजित हुआ (विस्तृत रिपोर्ट यहाँ पढ़ें)।

1 फरवरी को कविताओं के एल्बम काव्यनाद और प्रेमचंद की कहानियों के एल्बम 'सुनो कहानी' का विमोचन' हुआ। रिपोर्ट जल्द ही प्रकाशित होगी।

इसी कड़ी में 6 फरवरी 2010 को हिन्द-युग्म वर्ष 2009 का अपना वार्षिकोत्सव विश्व पुस्तक मेला में आयोजित करने जा रहा है। इस कार्यक्रम में वर्ष 2009 के जनवरी माह से दिसम्बर माह के यूनिकवियों को सम्मान-पत्र दिया जायेगा। 38 यूनिकवियों की प्रतिनिधि कविताओं के संग्रह 'सम्भावना डॉट कॉम' का विमोचन और कुछ यूनिकवियों का काव्यपाठ आदि गतिविधियाँ होंगी।

कार्यक्रम की संक्षिप्त रूपरेखा निम्नलिखित है-

अध्यक्षता- वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह
वक्ता- आनंद प्रकाश, विष्णु नागर, मदन कश्यप
स्थान- कॉन्फ्रेश रूम-2 (सभागार-2), हॉल नं॰ 7D के पास, 19वाँ विश्व पुस्तक मेला, प्रगति मैदान, नई दिल्ली
(यह हॉल गेट नं॰ 7 से प्रवेश करने के बाद सीधे है, लगभग 500 मीटर की दूरी पर)
दिन व समय- 6 फरवरी 2010, दोपहर 2-4


यूनिकवि सम्मान से सम्मानित होने वाले कवियों के नाम-

गुलशन सुखलाल
चन्द्रदेव यादव
डॉ॰ सुरेश तिवारी
मुकेश कुमार तिवारी
दिबेन
सत्यप्रसन्न
अखिलेश कुमार श्रीवास्तव
सुधीर सक्सेना ‘सुधि’
दीपक चौरसिया ‘मशाल’
अपूर्व शुक्ल
रवीन्द्र शर्मा ‘रवि’
राज कुमार शर्मा ‘राजेशा’


सम्भावना डॉट कॉम के बारे में- किसी रचना का स्तर और उसकी गंभीरता प्रकाशन के माध्यम से नहीं निर्धारित किये जा सकते। इसलिए हिन्द-युग्म ने 'इंटरनेटीय साहित्य गैरस्तरीय है' मिथक को तोड‌़ने के लिए hindyugm.com पर पिछले 4 सालों में प्रकाशित 38 सम्भावनाशील कवियों की प्रतिनिधि कविताओं को सम्भावना डॉट कॉम में संकलित किया है। उन कवियों के नाम हैं-

अखिलेश कुमार श्रीवास्तव
अनुराधा श्रीवास्तव
अपूर्व शुक्ल
अवनीश गौतम
आकांक्षा पारे
आलोक उपाध्याय नज़र
आलोक शंकर
उमेश पंत
गुलशन सुखलाल
गौतम राजरिशी
गौरव सोलंकी
दर्पण शाह 'दर्शन'
दिबेन
दिव्य प्रकाश दुबे
दीपक मशाल
देवेन्द कुमार पाण्डेय
निखिल आनंद गिरि
पावस नीर
पुष्कर चौबे
प्रदीप वर्मा
प्रमोद कुमार तिवारी
मनीष वंदेमातरम्
मनु बेतखल्लुस
मनुज मेहता
मुकुल उपाध्याय
मुकेश कुमार तिवारी
रचना श्रीवास्तव
रश्मि प्रभा
विनय कुमार जोशी
विपुल शुक्ला
विश्व दीपक तन्हा
सजीव सारथी
सत्यप्रसन्न
सीमा कुमार
सुधीर सक्सेना सुधि
सुनीता यादव
सुरेश तिवारी
स्मिता पाण्डेय

नेपाली कविताएँ


आप सभी इस कार्यक्रम में और हमारे स्टॉल पर (हॉल नं॰ 12A, स्टॉल नं॰ 285) ज़रूर आयें। हम आपकी बाट जोह रहे हैं।

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

6 कविताप्रेमियों का कहना है :

निर्मला कपिला का कहना है कि -

इस प्रयास के लिये बहुत बहुत बधाई। हिन्दी सेवा मे आपका श्रम और प्रतिबधता सराह नीय है। धन्यवाद

Devendra का कहना है कि -

मैं आज शाम 'शिव गंगा' से चलकर कल सुबह पहुँच रहा हूँ...सभी साथियों का स्वागत है.

"अर्श" का कहना है कि -

badhaayee sabhi ko ...


arsh

विनोद कुमार पांडेय का कहना है कि -

बहुत प्रयास किया आने का परंतु आ नही पाया क्षमा करें...बस यही दुआ है हिन्दयुग्म इसी प्रकार परचम लहराते रहे...हिन्दयुग्म को .वार्षिकोत्सव की हार्दिक बधाई...

sumita का कहना है कि -

हिन्दयुग्म को वार्षिकोत्सव की बह्त-बहुत बधाई! आप सभी का हौंसला और हिन्दी के प्रति समर्पण का भाव सराहनीय है।

addictionofcinema का कहना है कि -

abhi kaviyon aur hindyugm ko bahut badhai

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)