फटाफट (25 नई पोस्ट):

Monday, April 11, 2011

कुंआरापन


बदनामी के डर से

अवैध नवजात सच को

उसकी मां ने जनते ही

कूड़े के ढ़ेर पर फेंक दिया

बिलबिलाती गंदगी पर

धूप में

भूख से बिलखते सच पर

आततायी आवारा कुत्तों ने

जश्न मनाने के लिए

बोल डाला है धावा

चारों तरफ से

नोच डाला नवजात को

लेकिन

नवजात सच

फिर भी नहीं मरा

बढ़ गईं हैं धड़कनें

उफन रही हैं सांसें

जीने की चाह

यकीनन बाकी है

रह-रह उठा रहा है

शिशु-मुख से चीत्कार

मौन समाज में जा कर

कहीं छिपी बैठी है

उसकी उत्तर-आधुनिक मां

इस इंतज़ार में

कि मिट जाए सच

तो फिर इठला सके

अपने कुंआरेपन पर

समाज में.....

(रांची की स्वयंसेवी संस्था स्पेनिन द्वारा आयोजित स्पेनिन सृजन सम्मान के लिए चयनित कविता)


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

9 कविताप्रेमियों का कहना है :

धर्मेन्द्र कुमार सिंह ‘सज्जन’ का कहना है कि -

सुंदर रचना, बस इतना ही कहूँगा कि अब माएँ ‘सच’ के मरने का इंतजार का नहीं करतीं, ‘सच’ को कूड़े के डब्बे में डाला और फुर्सत।

M VERMA का कहना है कि -

बेहतरीन रचना

मार्मिक और समाज के एक विद्रूप सच को दर्शाती हुई.

प्रवीण पाण्डेय का कहना है कि -

यह दृश्य हृदय चीर देने वाला है।

डा.संतोष गौड़ राष्ट्रप्रेमी का कहना है कि -

काश! हम कुंवारेपन की अपेक्षा सच को अपनापाते.

हेमंत कुमार दुबे (Hemant Kumar Dubey) का कहना है कि -

समाज के एक वर्ग की कुत्षित मानसिकता को बहुत संजीदगी से उभारती हुई बहुत ही मार्मिक रचना | इतना कहूँगा :

सत्य को छुपाने के लिए

दामन को बचाने के लिए

क्या कुछ गलत नहीं किया

पर अफ़सोस

दुष्कर्म का फल

सामने आयेगा

कैमरे से बचा नहीं कोई

कोई बच नहीं पायेगा |

Vivek Jain का कहना है कि -

बेहतरीन मार्मिक रचना

विवेक जैन vivj2000.blogspot.com

RAKESH JAJVALYA राकेश जाज्वल्य का कहना है कि -

बहुत ही मार्मिक रचना

ज्योति सिंह का कहना है कि -

bahut hi marmik rachna aur badhiya bhi

mona का कहना है कि -

Its sad to think about how people make a mistake,try to run away from it and the life long sufferer is an innocent being with no worldly knowledge.One of my acquaintances adopted a new born left in the hospital but after a similar mother fled away it was realized that the child wud be physically challenged coz d mother used to eat pills to destroy it. The new parents r so good that they r doing the best possible for the child n keeping it as real parents.

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)